English
उत्‍तर प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड

उत्तर प्रदेश सरकार

सामान्य प्रश्न

3. कृषि आधारित और खाद्य उद्योग:-

  1. अनाज दाल, मसाला, चटपटे मसाले आदि का प्रशोधन, पैकिंग और विपणन।
  2. ताड़ गुड़ निर्माण और अन्य ताड़ उत्पाद उद्योग।
  3. गन्ना गुड़ और खाण्डसारी निर्माण।
  4. मधुमक्खी पालन।
  5. अचार सहित फल और सब्जी का प्रशोधन, परिरक्षण एवं डिब्बाबन्दी।
  6. घानी तेल उघोग।
  7. नारियल जटा के अलावा रेशा।
  8. औषधीय कार्यो हेतु जड़ी- बूटियों का संग्रह।
  9. मकई और रागी का प्रशोधन,
  10. मज्जा चटाईयां और हारा आदि का निर्माण।
  11. काजू प्रशोधन।
  12. दोना बनाना।
  13. नूडल निर्माण।
  14. विद्युत चलित आटा चक्की।
  15. दलिया निर्माण।
  16. चावल से छिलका उतारने की छोटी इकाई।
  17. भारतीय मिष्ठान निर्माण।
  18. रसवन्ती-गन्ना रसपान इकाई।
  19. मेन्थाल तेल।
  20. दुग्ध उत्पादन निर्माण इकाई।
  21. पशु चारा, मुर्गी चारा निर्माण।

4. बहुलक और रसायन आधारित उद्योग:-

  1. शवच्छेदन, चर्मशोधन तथा खाल व त्वचा से सम्बन्धित अन्य सहायक उद्योग एवं कुटीर चर्म उद्योग।
  2. कुटीर साबुन उद्योग।
  3. रबड़ वस्तुओं का निर्माण(डिप्ड लेटेक्स उत्पाद)।
  4. रैक्सीन/पी० वी० सी० के बने उत्पाद।
  5. हाथी दाँत समेत सींग और हड्डी उत्पाद।
  6. मोमबत्ती, कपूर और मोहर वाली मोम का निर्माण।
  7. प्लास्टिक की पैकेजिंग, वस्तुओं का निर्माण।
  8. बिन्दी निर्माण।
  9. मेंहदी निर्माण।
  10. इत्र निर्माण।
  11. शैम्पू निर्माण।
  12. केश तेल निर्माण।
  13. डिटर्जेन्ट और धुलाई पाउडर(अविषाक्त)

5. इंजीनियरिंग और गैर परम्परागत ऊर्जा:-

  1. बढ़ईगीरी।
  2. लोहारी।
  3. अल्युमिनियम के घरेलू बर्तनों का उत्पादन।
  4. गोबर और अन्य उपशिष्ट उत्पाद जैसे मृत पशु के मांस और मल आदि से खाद और मीथेन(गोबर) गैस का उत्पादन और उपयोग।
  5. कागज, क्लिप, सेफ्टी पिन, स्टोव पिन आदि का निर्माण।
  6. सजावटी बल्बों बोतलों, ग्लास आदि का निर्माण।
  7. छाता उत्पादन।
  8. सौर तथा पवन ऊर्जा उपकरण।
  9. हस्त निर्मित पीतल के बर्तनों का निर्माण।
  10. हस्त निर्मित तांबे के बर्तनों का निर्माण।
  11. हस्त निर्मित कांसे के बर्तनों का निर्माण।
  12. पीतल, तांबे और कांसे से अन्य वस्तुओं का निर्माण।
  13. रेडियो निर्माण।
  14. कैसेट प्लेयर का निर्माण चाहे वह रेडियो में लगा हुआ हो या न हो।
  15. कैसेट रिकार्डर का निर्माण।
  16. वोल्टेज स्टेब्लाईजर का उत्पादन।
  17. इलेक्ट्रानिक घड़ियों का निर्माण।
  18. लकड़ी पर नक्काशी एवं कलात्मक फर्नीचर निर्माण।
  19. टीन कार्य।
  20. तार की जाली बनाना।
  21. लोहे की झंझरी (ग्रिल) निर्माण।
  22. ग्रामीण यातायात वाहन जैसे हाथ गाड़ी, बैलगाड़ी, छोटीनाव, दुपहिया साइकिल/रिक्शा-मोटर युक्त गाडियों का निर्माण।
  23. संगीत साजों का निर्माण।
  24. केचुआ पालन तथा कचरा निपटारा।